स्वच्छ भारत अभियान के तहत कार्यक्रम आयोजित 
December 10, 2019 • Chanderpal

नागु वर्मा, उज्जैन 

तराना- श्री संत कालिदास विद्यालय में झारखंड के स्वच्छ भारत एवं पर्यावरण स्वच्छता की अलख जगाने वाले स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। 
इस मौके पर राष्ट्रीय प्रचारक बिंदु भूषण दुबे, अतिथि डॉ ओ पी जोशी, अखिल भारतीय सर्व ब्राह्मण एकता परिषद मध्य प्रदेश अध्यक्ष सुभाष जोशी, समाजसेवी अशोक वक्त की उपस्थिति में विद्यालय में स्वच्छ भारत  एवं पर्यावरण को लेकर विभिन्न गणमान्यों द्वारा अपने विचार प्रकट किए गए। इससे पूर्व मां सरस्वती का पूजन अर्चन कर दीप प्रज्वलित किया।
अतिथियों का स्वागत विद्यालय की रानी चतुर्वेदी, निर्मल सिंह ठाकुर ,जितेंद्र वर्मा, पंडित अखिलेश चतुर्वेदी ,आयुषी चतुर्वेदी एवं समस्त स्टाफ ने अभिनंदन किया ।

अतिथि परिचय निर्मल सिंह ठाकुर ने दिया । इस अवसर पर श्री दुबे ने पर्यावरण के संदर्भ में जागृत करते हुए कहा कि  वर्तमान जीवन ,जगत ,जल ,जमीन और जंतु संकट में है। धीरे-धीरे संपूर्ण भारत में जंगलों की बेदर्दी से कटाई भारत में जंगलों की कटाई से 80ः भूभाग खाली हो चुके हैं । केवल 20ः जमीन में जंगल है जो बेहद चिंताजनक है । भारत के 747 जिले हैं सभी 747 जिलों में से 300 जिलों का मैक्सिमम अधिकतम तापमान 50 डिग्री पार कर चुका है जो सभी जीव जंतुओं के लिए भयंकर रूप से खतरे का संकेत है ऑयल के प्रयोग की वजह से रेडिएशन पहला और उस रेडिएशन के दुष्प्रभाव से 80ः छोटी चिड़ियों की मौत हो गई जनसंख्या बढ़ने से पेड़ों की कटाई से और पृथ्वी में गर्मी बढ़ने से बर्फीले पहाड़ पिघलने लगे और जल का संकट गहराना प्रारंभ हो गया । भारत के अधिकतर राज्यों में 4 से 5 महीने तक खास करके फरवरी से लेकर जुलाई तक भयंकर सूखा पड़ना प्रारंभ हो गया है। जो बेहद चिंताजनक है । पेड़ लगाना बहुत कम हो गया है और वृक्षों की कटाई तेजी से बढ़ी है। जो बेहद चिंताजनक है। पर्यावरण संकट से निपटने के लिए भारत के प्रत्येक नागरिकों को पेड़ लगाना होगा और पेड़ की रक्षा करनी होगी । 
 हम जो मोबाइल का उपयोग करते हैं । इससे निकलने वाली तरंगों के कारण जीव जंतु पक्षी को काफी नुकसान झेलना पड़ रहा है। चिड़िया तो हमें ढूंढने से भी नहीं मिल पा रही है। वहीं हमने हमारा जीवन मोबाइल के हवाले कर दिया है । जिसके कारण हमारी आंखों की रोशनी कमजोर होती जा रही है उन्होंने विद्यालय में प्लास्टिक एवं पॉलिथीन का उपयोग नहीं करने हेतु बच्चों को प्रेरित किया। 
इस अवसर पर विद्यालय परिवार की ओर से जितेंद्र वर्मा, किशोर अग्रवाल, नीलू यादव, रितु यादव, बिंदिया यादव ,पूजा ठाकुर, साक्षी शर्मा ,पूजा मालवीय ,साइना खान ,राधिका गोस्वामी, सोनू पटेल ,फिरोज खान साक्षी महेश्वरी एवं समस्त स्टाफ में स्वागत अभिनंदन के बाद श्री दुबे को आश्वस्त कराया कि हम पर्यावरण के प्रति सजग रहेंगे ।