नगर के सबसे वरिष्ठ 115 वर्षीय पेंशनर के निधन पर श्रद्धांजलि दी
December 7, 2019 • Chanderpal

 

नागु वर्मा उज्जैन
महिदपुर- नगर के सबसे वरिष्ठ पेंशनर 115 वर्षीय हाजी बहादर खां,  जो की द्वितीय बटालियन एसएएफ इंदौर में आरक्षक के रुप में कार्यरत रहते हुए सन 1953 में सेवा निवृत्त हुऐ थे। उस समय शासन की सेवानिवृत्ति के बाद पेंशन योजना लागू नही होने से उन्हें यह लाभ योजना के आरंभ होने के बाद से सन् 1956 से उन्हें लागू हुई थी तथा 1956 से वेे लगातार ही शासन की पेंशन योजना का लाभ प्राप्त कर रहे थे। विगत दिनों से उनका स्वास्थ्य कुछ खराब चल रहा था तथा गुरुवार की रात्रि उनका निधन हो गया। सुबह उनके निधन की खबर मिलते ही पेंशनर समाज तथा समस्त क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई। शुक्रवार को नगर के करबला मैदान में सैंकड़ो लोगों ने नम आंखों से उनको अंतिम बिदाई दी। घर से अंतिम यात्रा के पूर्व पेंशनर समाज के अध्यक्ष आर सी मिश्रा तथा सचिव व्हाय.एस. चौहान  के द्वारा उनके जनाजे पर पुष्पमाला चढ़ाकर शाल ओढ़ाते हुए भावभीनी मार्मिक श्रद्धांजलि  दी गई।  वे अपनी दुवाओं से लोगों का ईलाज भी करते रहते थे, कई लोगों को इसका लाभ भी मिला था। इस कारण से नगर में आपके काफी प्रशंसक भी थे। प्रतिवर्ष आपका पेंशनर समाज के द्वारा आयोजन तथा नगरपालिका के द्वारा भी क्षेत्र के सबसे वरिष्ठ नागरिक एवं  पेंशनर  के रुप में उनका सम्मान भी किया जाता रहा है।