नागरिक जिला अस्पताल का लगभग डेढ घंटे तक निरीक्षण किया 
December 4, 2019 • Chanderpal

हृदयेश सिंह, फरीदाबाद 
फरीदाबाद के उपायुक्त अतुल कुमार ने मंगलवार को स्थानीय नागरिक जिला अस्पताल का लगभग दो घंटे तक निरीक्षण किया।  निरीक्षण के दौरान उन्होंने जिला चिकित्सा अधिकारी तथा सीनियर मेडिकल आफिसर को दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने बच्चों के वार्ड में इलाज करवा रहे। एक बच्चे के माता पिता के साथ दुर्व्यवहार करने पर कॉन्ट्रैक्ट पर कार्यरत नर्स को तुरंत प्रभाव से टर्मिनेट करने के निर्देश जिला चिकित्सा अधिकारी को दिए।
उपायुक्त अतुल कुमार मंगलवार को प्रात लगभग ग्यारह बजे नागरिक अस्पताल में पहुंचे और साढे बारह बजे तक अस्पताल परिसर का निरीक्षण किया। वे सीधे इमरजेन्सी वार्ड में पहुंचे और वहां पर उपचार करवा रहे लोगों से सुविधाओं और स्टाफ के बर्ताव के बारे में पूछा । इमरजेन्सी वार्ड में एक बैड पर दो लोगों का उपचार करवाते पाए जाने पर उपायुक्त ने उपस्थित चिकित्सा अधिकारियों को तुरंत एक और बैड लगाने के निर्देश दिये । उन्होंने वहां पर ड्रिप लगाने के लिए प्रत्येक बैड के साथ एक स्टैंड लगाने और महिलाओं तथा पुरूषों के लिए अलग-अलग वार्ड बनाने के निर्देश दिये। उपायुक्त के निर्देशों पर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने तुरंत कार्रवाई करके व्यवस्था में सुधार किया ।

उपायुक्त ने नागरिक अस्पताल में डाक्टर ड्यूटी रूम,ओपीडी, आयुष्मान भारत योजना के पूछताछ केंद्र, एक्स रे रूम,टायलेट, बाथरूम ,अस्पताल परिसर की साफ-सफाई, शीशू वार्ड, मातृत्व वार्ड के प्रतीक्षालय, एसएनसीयू, किडनी यूनिट, डायलिसिस सैन्टर,ब्लड बैंक सहित पूरे नागरिक अस्पताल परिसर का अवलोकन किया गया ।
निरीक्षण के दौरान उपायुक्त अतुल कुमार ने शीशु वार्ड में एक उपचाराधीन बच्चे के माता पिता के साथ दुर्व्यवहार करने पर कॉन्ट्रैक्ट पर कार्यरत नर्स को तुरंत प्रभाव से टर्मिनेट करने के निर्देश दिये और सफाई  ठेकेदार को  सफाई व्यवस्था सुधारने के लिए दो दिन का समय देते हुए एक सफाई कर्मी को हटाने के निर्देश दिये। बिजली व पानी की सप्लाई में और सुधार करने के निर्देश दिये । इसके अलावा, उपायुक्त ने इलाज करवाने आए लोगों तथा का हाल चाल जाना। उपायुक्त ने उपस्थित चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे सरकार द्वारा दी जा रही दवाइयां निशुल्क ही दे, लोंगो को बाहर से कोई भी दवा खरीदने के लिए ना कहे।
इस दौरान पीएमओ डॉ सविता यादव, डाक्टर रमेश चन्द्र, डाक्टर राजेश श्योकन्द, डाक्टर रचना, डाक्टर विजय सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।